हौंसले के सामने उम्र और पहाड़ पस्त

50 साल से ज्यादा आयु के दो “युवाओं” ने दुनिया के सबसे ऊँचे दर्रे को साइकिल से किया पार कहते हैं, हौंसलों से बड़ी से बड़ी जंग जीती जा सकती है. और इसे सच कर दिखाया है उदयपुर शहर के कैलाश जैन और डॉ. शरद अयंगर ने. जिस उम्र में अक्सर लोग रिटायर्मेंट की प्लानिंग Read more about हौंसले के सामने उम्र और पहाड़ पस्त[…]

A bicycling journey from Manali through Leh, to Khardungla

Dr Sharad Iyengar, Udaipur Cycling Club (UCC) Two of us from Udaipur, Rajasthan, Kailash Jain and I undertook a 10 day bicycle trip from Manali to Leh and then to Khardungla, on the military route to the Siachen glacier. This turned out to be a unique lifetime experience, both in terms of the challenges of Read more about A bicycling journey from Manali through Leh, to Khardungla[…]